Friday, 15 July 2016

हम काले हैं तो क्या हुआ हुनर वाले हैं....



लड़की बदसूरत है और चार फिट से कम हाइट वाली है। हॉस्टल की मॉडर्न लड़कियां उसे कम पसंद करती हैं या यूं कहें कि पसंद ही नहीं करती है। वह लड़की कोई काम फटाफट कर लेती है..बर्तन मांजते या फिर सब्जी काटते वक्त उसकी कलाई किसी घरेलू महिला से कम नहीं दिखती है। उम्र में भी वह हॉस्टल की बाकी लड़कियों से काफी बड़ी है।

सुबह जल्दी जगती है, बाकी लड़कियों से पहले नहा लेती है। हॉस्टल की बालकनी में गमले में लगे तुलसी को रोजाना दो लोटा जल चढ़ाती है। अन्य लड़कियां उसे कहती हैं कि उम्र में काफी बड़ी दिखती है। कहीं ऐसा तो नहीं कि इसकी शादी न लग रही हो और अच्छे वर के लिए ये रोजाना तुलसी को जल चढ़ाती है। लड़कियों के पास शायद इतनी फुर्सत होती है कि वे बालकनी में जगह-जगह खड़ी होकर उसके बारे में कयास लगाती रहती हैं।

कल हॉस्टल की ही एक लड़की का बर्थडे था। लड़की ने अपनी फ्लोर की सभी लड़कियों को बुलाया साथ ही उस बदसूरत लड़की को भी बुलाया। केक कटने के बाद खाने-पीने का दौर शुरू हुआ। उस बदसूरत लड़की ने फटाफट सबको प्लेट में खाने वाले आयटम परोसे। सबको प्यार से खिलाया। गुलाब जामुन उठाकर कुछ लड़कियों को खिलाते हुए सेल्फी भी ली। खाने-पीने के बाद नाच-गाने का सिलसिला शुरू हुआ। कुछ लड़कियों ने शरमाते हुए डांस किया...जिसने खुल कर डांस किया वो भी ऐसे जैसे नौसिखिए हों...सबने एक दूसरे के डांस की झूठी तारीफ की और ठहाके लगाए। इस दौरान बदसूरत लड़की को किसी ने डांस करने के लिए कहा, पहले तो लड़की ने ना कहा लेकिन दोबारा कहने पर मान गई।

बदसूरत लड़की ने डांस करना शुरू किया...बाकी लड़कियां किनारे हट गईं...क्या डांस किया उस लड़की ने। सब मुंह फाड़े हुए माशाअल्लाह कहती रह गईं। गाना खत्म हुए और लड़की के कदम रूक गए। लेकिन बाकी लड़कियों ने उसे रूकने नहीं दिया...ऐसा डांस थर्ड फ्लोर की किसी भी लड़की को नहीं आता था...बदसूरत लड़की ने एक के बाद एक तीन गानों पर डांस किया और सभी लड़कियों को झूमने पर मजबूर कर दिया। हॉस्टल की सभी लड़कियों ने उस लड़की की बहुत-बहुत तारीफ की। कुछ ने उससे डांस सिखाने का वादा भी लिया। लड़की खुश हो गई। अब उसका कमरा खाली नहीं है। कोई न कोई लड़की उसके कमरे में हर वक्त बैठी दिख रही है। हॉस्टल की लड़कियों के लिए उसकी बदसूरती खत्म हो गई। लड़की खुश है। प्रतिभा हो तो ऐब छिप जाते हैं। वह किसी लड़की से ऐसा कह रही थी। मैंने उससे कहा-सांवला होना, या खूबसूरत नहीं होना कोई ऐब नहीं होता।
Post a Comment